Love Triangle Murder Case : लव ट्रायंगल में हुई IAS की कोचिंग करने वाले छात्र की हत्या, पुलिस ने किया खुलासा, तीनों आरोपी गिरफ्तार

Spread the love

बिलासपुर। Love Triangle Murder Case : बिलासपुर (CG Bilaspur) में रहकर दिल्ली IAS की तैयारी करने वाले छात्रा की हत्या मामलें की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। युवक छात्र की हत्या का कारण लव ट्रेंगल (Love Triangle) सामने आया है। पुलिस ने मामलें में आरोपियों की गिरफ्तारी की है। जिन्हे न्याययिक रिमांड पर न्यायलय पेश किया जाना है। घटना 6 जून की है। मृतक छात्र सरगुजा जिले के लखनपुर गांव का निवासी था।

Love Triangle Murder Case : पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि प्रेमिका ने अपने पहले प्रेमी और उसके तीन साथियों के साथ मिलकर की थी। यश साहू को कोचिंग सेंटर से आरोपी ने अगवा किया था और एक बंद पड़े ढाबे में लाकर अपने दो अन्य दोस्तों के साथ बेल्ट और डंडे से बेदम पिटाई की। अधमरा होने पर ऑटो में बैठाकर उसे गुम्बर चौक के पास फेंक दिया था। मामले में मुख्य आरोपी राहुल नामदेव सहित तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

Love Triangle Murder Case : पुलिस को 6 जून की दोपहर थाना सिरगिट्टी क्षेत्र के गुम्बर चौक के पास 20 वर्षीय युवक की लाश मिली। सूचना पर मौके में एसपी संतोष सिंह ने शव की शिनाख्त कर आरोपियों की गिरफ्तारी की है। मृतक के मोबाईल से मिले नंबर के आधार पर मृतक की पहचान यश साहू उर्फ टीनू पिता राजेश साहू 20 वर्ष ग्राम लखनपुर जिला सरगुजा के रूप में की गई।

वर्तमान में मृतक मंगला चौक बिलासपुर में रहकर दिल्ली IAS कोचिंग में पढ़ाई कर रहा था। पुलिस ने मंगला
चौक स्थित कोंचिग इंस्टीट्यूट के सीसीटीवी कैमरा, शहर के लगभग 200 अलग-अलग स्थानो में लगे सीसीटीवी को खंगाला।

Love Triangle Murder Case : लव ट्रायंगल के चलते हत्या

Love Triangle Murder Case : जांच में पुलिस को जानकारी मिली कि मृतक युवक का चकरभाठा क्षेत्र की एक युवती से प्रेम संबंध था। साथ ही उसी युवती का चकरभाठा के राहुल नामदेव नामक युवक से भी प्रेम संबंध था। राहुल नामदेव अधिकतर अपनी प्रेमिका को कोचिंग संस्था के आसपास देखने भी आता था। इस बीच राहुल को पता चला कि प्रेमिका का यश साहू के साथ भी प्रेम संबंध है।

इस जानकारी के बाद आरोपी आक्रोशित हो गया और मृतक यश साहू को प्रेमिका से दूर रहने की चेतावनी भी दिया। इसके बाद 6 जून को राहुल कोचिंग संस्था पहुंचा, जहां पर यश साहू और अपनी प्रेमिका को साथ देखकर आग बबूला हो गया।

यश साहू को सबक सिखाने और मारने के लिये प्लाॅन योजना बनाया। प्लानिंग के तहत ही राहुल नामदेव ने यश को कोचिंग संस्था से बाहर बुलाया और अपने स्कूटी में बैठाकर मारपीट करते हुए चकरभाठा ले गया। राहुल ने यहां पर अपने अन्य साथी विनय सांडिल्य, उमेश वर्मा को भी लाठी डण्डा लेकर ढाबे में बुलवाया।

Read More : Raipur Kidnapping Case : किराएदार ने रची थी किडनैपिंग की साजिश, पुलिस ने किया बड़ा खुलासा, 2 हुए गिरफ्तार

लाठी, डण्डा और बेल्ट से बेरहमी से की पीटाई 

इसके बाद तीनों ने मिलकर यश की लाठी डण्डा और बेल्ट से बेरहमी से पीटाई की। अधमरा हो गया उसके बाद आरोपी राहुल नामदेव को यह आभास हो गया कि यश साहू की मौत हो सकती है।

पहले तो आरोपी ने पुलिस द्वारा पकड़े जाने के डर से अधमरा हालत में यश को चकरभाठा हाईकोर्ट मोड़ के पास ले गए। फिर ऑटो में बिठाकर उसे अस्पताल भेज दिया। लेकिन यश ने मौके पर ही दम तोड़ दिया और ऑटो ड्राइवर शव को गुम्बर चौक सिरगिट्टी पास फेंककर फरार हो गया।

मामले में मुख्य आरोपी राहुल नामदेव द्वारा अपने अन्य साथियों विनय सांडिल्य, उमेश वर्मा के साथ मिलकर हत्या की बात कबूल की है। सभी आरोपीयो (को अलग-अलग जगहों से घेराबंदी कर पकड़ (Love Triangle Murder) गया है। घटना में प्रयुक्त बेल्ट, लकडी का डण्डा तथा घटना में प्रयुक्त स्कुटी व मारूती ब्रेजा कार को जप्त कर तीनों आरोपीयों को यश साहू की हत्या करने के जुर्म में गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर न्यायालय पेश किया जाएगा।


Spread the love